Thursday, May 4, 2017

अरविंद यानी कमल और कमल यानी बीजेपी और बीजेपी यानी नरेंद्र मोदी

सर जी इन दिनों अपने नाम के एक अर्थ को लेकर काफी परेशान है। परेशान भी क्यों न हो, जिस बीजेेपी और कमल के निशान की वह अक्सर खिलाफत करते हैं, अपने नाम की वजह से उनका बीजेपी से एक गहरा नाता जो जुड़ गया है। सरजी को उस समय से काफी टेंशन है, जब से उन्हें किसी ने बताया है कि संस्कृत मेंं कमल का मतलब अरविंद होता है। अरविंद यानी कमल और कमल यानी बीजेपी और बीजेपी यानी नरेंद्र मोदी। अब इन्हीं से तो इनकी लड़ाई चल रही है। हर बात के लिए मोदी जी को जिम्मेदार ठहराने वाले सर जी को अगर किसी ने सरेराह कह दिया कि आपके नाम का मतलब भी कमल है तो वे क्या जवाब देंगे। क्या अपना नाम भी बदल देंगे?

No comments: