Friday, April 3, 2009

इश्क करने की सजा, 34 कोड़े

ये इश्क नही आसान , इतना ही समझ लीजिये इक आग का दरिया है और डूबके जाना है। किसी ने ठीक ही कहा है के प्यार की मंजिल आसान नही। पाकिस्तान के पश्चिमोत्तर सीमांत प्रांत में 17 साल की एक युवती को प्यार करने की भारी कीमत चुकानी पड़ी। उसे 34 कोड़े मारने की सजा सुनाई गई। किसी ने पूरे घटनाक्रम को अपने मोबाइल फोन पर शूट कर लिया। और अब दुनिया इस दुखद घटना का वीडियो देखकर हैरान है। साफ है कि प्रांतीय सरकार से शांति समझौता करने के बाद स्वात में आतंकियों का एकछत्र राज है। वे अपना दायरा बढ़ा रहे हैं।
यह घटना दो हफ्ते पहले की है। वीडियो फुटेज में लड़की को बुरी तरह पिटते दिखाया गया है। फुटेज में लड़की बुर्का पहने दिख रही है। आतंकियों ने उसे पेट के बल जमीन पर लिटाया हुआ है। एक ने उसके पैर और दूसरे ने सिर को पकड़ रखा है। तीसरा उसकी पीठ पर कोड़े बरसा रहा है। लड़की चीख-चीखकर रहम की भीख मांग रही है। यह दृश्य सभ्य समाज के लिए भले ही अनजाना और दहला देने वाला हो लेकिन तालिबान का न्याय तो यही है। पश्चिमी देश पहले ही समझौते को भविष्य के लिए घातक करार दे चुके हैं। उनके लिहाज से ऐसा करना तालिबान और अल कायदा को सुरक्षित पनाह देने जैसा है। लेकिन देखना यह है कि यहां की स्थानीय जनता कब तक अपने जज्बातों की बलि चढ़ाती रहेगी।

2 comments:

venus kesari said...

मगर हमने तो सुना है उसे ससुर से अवैध सम्बन्ध की वजस से कोड मरे गए व ससुर को भी ३४ कोड मरे गए

rishi said...

bahut Khub likha